हल्दीघाटी युद्धतिथि पर 501 दीप प्रज्वलित कर किया शहीदों को नमन

प्रातः स्मरणीय,वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप द्वारा मातृभूमि की रक्षार्थ लड़े गए हल्दीघाटी युद्ध की 444 वीं तिथि पर ग्राम पंचायत खमनोर स्थित रक्ततलाई के पास परमारो की भागल में युद्ध में शहीद देशभक्तों की याद में 501 दीपक द्वारा दीपांजलि अर्पित की गई।
हल्दीघाटी पर्यटन समिति के अध्यक्ष राकेश पालीवाल ने बताया कि युद्धतिथि पर सायंकाल 5 बजे प्रेस क्लब व पर्यटन समिति के पदाधिकारियों द्वारा ऐतिहासिक मूल हल्दीघाटी दर्रे का अवलोकन किया गया। सभी पदाधिकारियों का हल्दीघाटी की मिट्टी से तिलक कर उपरणा ओढ़ाकर स्वागत किया गया।

पालीवाल ने बताया कि मूल दर्रे सहित समूची हल्दीघाटी को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने की आवश्यकता है।दर्रे के भ्रमण पश्चात 6 बजे से ‘ आजाद भारत एवं वर्तमान हल्दीघाटी’ विषयक संगोष्ठी का आयोजन हुआ। संगोष्ठी में उपस्थित प्रतिभागियों द्वारा हल्दीघाटी की वर्तमान दशा पर चिंता व्यक्त करते हुए आने वाली पीढ़ी हेतु उचित संरक्षण की मांग रखी गई। तत्पश्चात आयोजित दीपांजलि में ग्राम सरपंच श्रीमती ममता वीरवाल सहित ग्राम विकास अधिकारी बालमुकुंद माली, राजीविका ब्लॉक परियोजना अधिकारी अमित जोशी,राजसमंद सरपंच संघ जिलाध्यक्ष संदीप श्रीमाली, पर्यटन समिति व प्रेस क्लब संस्थापक कमल मानव,प्रेस क्लब अध्यक्ष मुकेश पालीवाल, डॉ. कुलदीप कौशिक, लक्ष्मण सिंह राठौड़, विजय शर्मा, आर्ट ऑफ लिविंग से तरुण कोठारी,चेतन लक्षकार, महेंद्र सिंह,अधिवक्ता देवीलाल गायरी, करनी सेना व राजपूताना संघ के पदाधिकारी, राजवीर सिंह,हेमराज लोधा, मृदल व्यास,ब्रह्म शक्ति नवयुवक मंडल अध्यक्ष दीपक पालीवाल,जयहल्दीघाटी मंडल अध्यक्ष चेतन पंवार, वार्ड पंच गोपाल माली,देवीलाल सोनी, तनसुख सोनी,चेतन दूरिया, जुगुनू पुरोहित, जालम सिंह आदि सहित कई प्रताप भक्त उपस्थित रहे।

हल्दीघाटी युद्ध की 444 वीं युद्धतिथि पर शहीदों को दीपांजलि अर्पित करने पधारे सभी देशभक्तों को साधुवाद एवं धन्यवाद है।…

Haldighati यांनी वर पोस्ट केले गुरुवार, १८ जून, २०२०

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *