जन्माष्टमी एवं नन्द महोत्सव पर श्रीनाथजी मंदिर में होंगे विशेष उत्सव -शोभायात्रा में विशाल बावा करेंगे शिरकत

—-स्वतंत्रता  दिवस एवं श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई —-

पुष्टिमार्गीय वल्लभ सम्प्रदाय की प्रधानपीठ श्रीनाथद्वारा में  15 अगस्त, 2017 को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव एवं 16 अगस्त, 2017 को नन्द महोत्सव मनाया जायेगा। सुरक्षा की दृष्टि से न्यॅू कोटेज परिसर व श्रीदामोदरधाम में सीसीटीवी केमरे लगाये गये हैं। आगन्तुक वैष्णवों की सुविधार्थ पानी-प्रकाश व स्वच्छता आदि की समुचित व्यवस्थाएॅ की गई है।
वैष्णवों को सुगमता से आवास उपलब्ध हो, इस हेतु मन्दिर मण्डल द्वारा केन्द्रीय पूछताछ एवं आरक्षण कार्यालय को चौबीस घंटे खुले रहने की व्यवस्था की गई है। इस अवसर पर आगन्तुक वैष्णवों के आवास, सुरक्षा व सुविधाजनक दर्शन-व्यवस्था हेतु मन्दिर मण्डल द्वारा बड़ी तैयारी की जा रही है। आपात चिकित्सा हेतु माणक चौक में बनाये गये अस्थाई कंट्रोल रूम पर, मोतीमहल एवं न्यॅू कोटेज परिसर में एम्बूलेन्स व चिकित्सा टीम की व्यवस्था की गई है। असामाजिक तत्वों पर निगरानी हेतु विभिन्न स्थानों पर सीसीटीवी केमरे लगाये गये हैं व वीडियो रिकार्डिंग कराने की व्यवस्था की गई है।
माणक चौक में कन्ट्रोल रूम बनाया जायेगा, जहाॅ से दर्शन व आवास संबंधित जानकारी प्राप्त की जा सकेगी एवं सुरक्षा प्रहरी सतत् निगरानी रखेंगे। माणक चौक में पब्लिक एड्रेस सिस्टम पर भगवान श्रीकृष्ण के मधुर संगीत/कीर्तन प्रसारण की व्यवस्था की गई है। नगर में आने वाले यात्री वाहनों की अस्थाई पार्किंग व्यवस्था हेतु सीनियर माध्यमिक विद्यालय, फौज मोहल्ला के प्रांगण, नाथूवास चैराहा, द्वारकाधीश मन्दिर के यहाॅ, 120 फीट रोड़ एवं वर्षावाटिका तथा नई हवेली स्कूल के सामने स्थित रिक्त स्थान पर की गई है। स्थानीय विद्यालयों, शैक्षणिक व स्वेच्छिक संस्थाओं आदि के सहयोग से भगवान श्रीकृष्ण के जीवन विशेषकर बालचित्रण से संबंधित विभिन्न लीलाओं की जीवन्त झाॅकियों का प्रदर्शन किया जायेगा, जिसमें प्रत्येक नागरिक विशेष उत्साह के साथ जुड़ रहा है। इन अद्भुत झाॅकियों के साथ हाथी, घोड़े, ऊॅट, नक्कारे, श्रीनाथ बैण्ड, स्थानीय बैण्ड्स, भजन मण्डलियाॅ एवं परम्परागत नक्कारा-निशान के साथ सुखपाल में श्रीकृष्ण की बाल स्वरूप की छवि पधराई जाकर विशाल शोभायात्रा का आयोजन किया जा रहा है। यह शोभायात्रा मन्दिर मण्डल प्रशासनिक भवन से प्रारंभ होकर गाॅधी रोड़, देहलीबाजार, गुर्जरपुरा, बड़ा बाजार, मन्दिर परिक्रमा, प्रीतमपोली, नया बाजार एवं चोपाटी से होकर रिसालाचौक में विसर्जित होगी।
इस शोभायात्रा में मन्दिर के सेवकगण, मन्दिर मण्डल स्टाफ व स्थानीय गणमान्य नागरिकों के साथ विशाल वैष्णव समुदाय भी रहता है। इस वर्ष शोभायात्रा में विशाल बावा भी शिरकत करेंगे
श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की खुशी में रात्रि के 12.00 बजे रिसालाचौक में 21 तोपों की सलामी दी जावेगी तथा मन्दिर मुख्यद्वार पर नक्कारखाने से ढ़ोल, नक्कारे, बिगुल, शहनाई आदि की मधुर ध्वनी से पूरा नाथद्वारा नगर गॅुजायमान होगा।
मन्दिर परिसर में परम्परानुसार जन्माष्टमी के दिन मन्दिर के राजपुरोहित द्वारा प्रातःकाल कृष्णावतार के विवरण के साथ श्रीकृृष्ण की जन्मकुण्डली मन्दिर खास में स्थित मणिकोठे से सुनाई जावेगी।
श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के दूसरे दिन नन्द महोत्सव के अवसर पर सम्पूर्ण मन्दिर में श्रीजी के बड़े मुखियाजी द्वारा नन्द स्वरूप धारण कर दूध-दही का छिड़काव ग्वाल-बालों के संग मिलकर किया जाता है। इस हेतु मन्दिर मण्डल द्वारा भारी मात्रा में दूध-दही की व्यवस्था की जाती है। इस दौरान श्रीकृष्ण के बाल स्वरूप को श्रीजी के सन्मुख पलने में झुलाये जायेंगे एवं छठी पूजन की रस्म परम्परानुसार की जाकर मन्दिर के द्वारों पर कुॅकुम, दूध-दही के छापे लगाये जायेंगे। इस अवसर पर भक्तजनों द्वारा हर्षोल्लास के साथ नाचते-गाते दूध-दही का छिड़काव किया जायेगा।
मन्दिर परिसर में जेबकटी, छेड़खानी, जेवरात चोरी अथवा अन्य कोई अप्रिय घटना विशेषकर भगदड़ आदि न हो, इसे दृष्टिगत रखते हुऐ जिला एवं पुलिस प्रशासन के सहयोग से सुचारू यातायात व्यवस्था हेतु पर्याप्त पुरूष/महिला काॅन्सटेबल व होम गार्ड्स तैनात किये जायेंगे।
सुरक्षा एवं सतर्कता के तहत नगर में तीन फायर ब्रिगेड की उपलब्धता रहेगी। एक क्रेन की व्यवस्था पुलिस विभाग के पास रहेगी। न्यॅू कोटेज परिसर, माणक चैक कंट्रोल रूम, मोतीमहल चैक तथा राजकीय चिकित्सालय में एम्बूलेन्स मय स्टाफ व प्राथमिक उपचार के उपलब्ध रहेगी। मन्दिर मण्डल का चिकित्सालय दि0 15 एवं 16 अगस्त को 24 घंटे खुला रहेगा। दर्शन व्यवस्था हेतु अतिरिक्त होमगार्ड्स की भी व्यवस्था की गई है।
वैष्णवों से आग्रह किया गया है कि दर्शन के समय अपने जूता-चप्पल, मोबाईल फोन, कीमती वस्तुएॅ व पर्स आदि अपने आवासगृह पर ही रखकर कर आवें। किसी भी संदिग्ध व्यक्ति, वस्तु या वाहन की सूचना नजदीक ड्यूटीरत पुलिस स्टाफ अथवा टेलीफोन नं0 100 पर दें। आवास व्यवस्था की जानकारी के लिये प्रशासनिक भवन के बाहर स्थित केन्द्रीय आरक्षण एवं पूछताछ कार्यालय (02953 233677) पर संपर्क किया जा सकता है।
दो दिन तक दो पहिया वाहन का प्रवेश व ठहराव मन्दिर मार्ग पर नहीं होगा। दो पहिया वाहन को लाल बाजार, इमली बाजार, बड़ा बाजार, गोविन्द चौक तथा बैंक आॅफ बड़ोदा के वहाॅ रोका जावेगा।

– जन्माष्टमी एवं नन्द महोत्सव (दर्शन समय) –

श्रीनाथजी की पावन नगरी नाथद्वारा में पुष्टिमार्गीय मर्यादा के अनुरूप श्रीकृष्ण जन्मोत्सव रात्रि में सार्वजनिक दर्शन के रूपमें नहीं मनाया जाकर दूसरे दिन नन्दमहोत्सव के रूपमें अर्थात् ‘नन्द के घर आनन्द भयो, जय कन्हैया लालकी’ के उद्घोष के साथ तिलकायत महाराजश्री व उनका परिवार, ब्रजवासी सेवकगण, मुखियाजी आदि तथा आगन्तुक वैष्णव प्रभु श्रीनाथजी के समक्ष नाचगान करते हुऐ दूध-दही का छिड़काव करते हैं। यह विशिष्ट उत्सव दिनांकः 16.08.2017 को प्रातः लगभग 7.30 बजे से 11.00 बजे तक होगा। तत्पश्चात् नियमित दर्शनों का क्रम निम्न अनुसार रहेगा:-
जन्माष्टमी एवं नन्द महोत्सव पर दर्शन समय
दि0 15.08.2017 श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर दर्शन
दर्शन समय दर्शन खुले रहने का समय (संभावित)
मंगला (पंचामृत) प्रातः 04.45 बजे से लगभग दो घंटा तक
श्रृंगार प्रातः 09.30 बजे से लगभग एक घंटा तक
राजभोग दोपहर 02.15 बजे से लगभग दो घंटा तक
भोग-आरती रात्रि 07.45 बजे से लगभग एक घंटा तक
जागरण रात्रि 09.00 बजे से लगभग ढाई घंटा तक

दि0 16.08.2017 नन्द उत्सव पर दर्शन
दर्शन समय दर्शन खुले रहने का समय (संभावित)
केसर युक्त दही/छाछ छिड़काव प्रातः 07.30 से 11.00 तक
मंगला एवं श्रृंगार अपरान्ह 12.15 बजे से लगभग आधा घंटा तक
राजभोग साॅय 02.15 बजे से लगभग एक घंटा तक
उत्थापन रात्रि 07.30 बजे से लगभग आधा घंटा तक
भोग-आरती रात्रि 08.00 बजे से लगभग एक घंटा तक

सेवा-पूजा एवं परम्परा के कारण समय में कुछ परिवर्तन संभव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *