हल्दीघाटी युद्धतिथि पर दीपांजलि के साथ महाराणा प्रताप विषयक कला प्रदर्शनी का आयोजन

खमनोर । मातृभूमि के स्वाभिमान की रक्षार्थ लड़े गए ऐतिहासिक हल्दीघाटी जनयुद्ध में शहीद हुये देशभक्तों की स्मृति में स्थानीय हल्दीघाटी पर्यटन समिति ,नेहरू युवा केंद्र से संबद्ध नवयुवक मंडलों एवं अन्य प्रताप प्रेमी युवाओं द्वारा भव्य श्रद्धांजलि व दीपांजलि समारोह वीरता दिवस के रूप में आयोजित किया जायेगा ।
इस वर्ष हल्दीघाटी युद्ध तिथि 18 जून  के अवसर पर होने वाले आयोजन में एक नया अध्याय जोड़ा गया है। जिसके तहत महाराणा प्रताप व हल्दीघाटी विषयक कला प्रदर्शनी का भी आयोजन रक्त तलाई परिसर में होगा। इस संदर्भ में माटी की कला से जुड़े प्रदर्शनी समन्वयक डॉ. गगन बिहारी दाधीच ने बताया कि माटी से बने तवे ( केलड़ी ) पर देशभर से आमंत्रित 70 से ज्यादा कलाकार प्रताप व हल्दीघाटी से जुड़े प्रसंगों पर चित्रण कर रहे है जिन्हें हल्दीघाटी युद्धतिथि को प्रदर्शित किया जाएगा। डॉ. दाधीच ने बताया कि गत एक माह से इस आयोजन की तैयारियां चल रही है तथा दिल्ली, अहमदाबाद,पटना,भोपाल,ग्वालियर के साथ ही राज्य में जयपुर, उदयपुर, नाथद्वारा, राजसमन्द,नागौर, अजमेर, कोटा,बूंदी व टोंक के कलाकारों को तवे भिजवा दिये गए तथा इन पर चित्रण भी शुरू कर दिया गया है।
पर्यटन समिति के कमल मानव ने बताया कि हल्दीघाटी युद्ध तिथि पर अश्वारूढ़ दल सहित चेतक समाधी पर प्रताप के प्रिय अश्व की शहादत को नमन किया जायेगा। दिनभर प्रदर्शनी, संगोष्ठी व अन्य कार्यक्रम होंगे। सायंकाल समूची रण धरा रक्त तलाई को सामूहिक रूप से दीपक की रोशनी से रोशन किया जायेगा। इस अवसर पर आगंतुक देशभक्त स्वरांजलि व काव्यांजलि दे कर सर्वधर्म समभाव की प्रार्थना भी करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *