Archive For The “maharana pratap” Category

हल्दीघाटी में महाराणा प्रताप जयन्ती पर तीन दिवसीय विशाल मेला शुरू – प्रताप से जुड़े ऎतिहासिक स्थलों का विकास किया जाएगा – विधानसभाध्यक्ष

By |

खमनोर। वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की 479 वीं जयन्ती पर खमनोर पंचायत समिति की ओर से हल्दी घाटी के शाही बाग में आयोजित तीन दिवसीय प्रताप जयन्ती मेला गुरुवार को समारोहपूर्वक शुरू हुआ।
शाही बाग में भव्य उद्घाटन समारोह राजस्थान विधानसभाध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी के मुख्य आतिथ्य एवं सांसद दिया कुमारी की अध्यक्षता में हुआ। इसमें स्वतंत्रता सेनानी मदनमोहन सोमटिया एवं लीलाधर गुर्जर, जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल, जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी निमिषा गुप्ता, नाथद्वारा की उपखण्ड अधिकारी निशा, समाजसेवी देवकीनंदन गुर्जर काका एवं वीरेन्द्र पुरोहित आदि विशिष्ट अतिथियों के रूप में उपस्थित थे। समारोह में पूर्व जिलाप्रमुख नंदलाल सिंघवी, समाजसेवी महेशप्रतापसिंह सहित क्षेत्र भर से ग्रामीण जन प्रतिनिधिगण, अधिकारीगण और राज्यकर्मी, गणमान्य नागरिक तथा बड़ी संख्या में स्त्री-पुरुष उपस्थित थे।


पुष्पान्जलि, दीप प्रज्वलन व ध्वजारोहण से शुरू हुआ मेला
राजस्थान विधानसभाध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी एवं अन्य अतिथियोंं ने महाराणा प्रताप की मूर्ति के सम्मुख पुष्पान्जलि एवं दीप प्रज्वलन तथा मेला ध्वजारोहण कर तथा सांसद दिया कुमारी ने उद्घाटन घोषणा कर मेले का शुभारंभ किया। पुष्पांजलि के दौरान सभी उपस्थितजनों ने अपने स्थान पर खड़े होकर महाराणा प्रताप के आदर्शों को आत्मसात करते हुए समाज व राष्ट्र के विकास में समर्पित भागीदारी का संकल्प लिया। मेला प्रभारी लादूराम विश्नोई ने शोभायात्रा में ऎतिहासिक पात्रों की जीवन्त झांकी पेश करने वाले सभी कलाकारों को सम्मानित किया। जय हल्दीघाटी नवयुवक मण्डल के अध्यक्ष चेतन ने सभी पात्रों का परिचय कराया। मचीन्द से लाए गए कलश का अतिथियों ने पूजन किया।
प्रताप से संबंधित स्थलों का हरसंभव विकास होगा
समारोह के मुख्य अतिथि राजस्थान विधानसभाध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी ने महाराणा प्रताप से संबंधित स्थलों के संरक्षण और विकास के लिए हरसंभव प्रयासों पर बल दिया और कहा कि इसके लिए सभी पहलुओं पर विचार कर स्थायी एवं ठोस कार्य अमल में लाए जाएंगे ताकि प्रताप जयन्ती पर मेले का भव्य आयोजन और अधिक बेहतरी से हो सके। इसके लिए मेला मैदान व मेला विकास के कारगर प्रयास सुनिश्चित किए जाएंगे।
डॉ. जोशी ने महाराणा प्रताप के जीवन और आदर्शों को आत्मसात करने का आह्वान किया और कहा कि देश की एकता, अखण्डता को मजबूती देने तथा दुनिया में भारतवर्ष का नाम रोशन करने के लिए प्राण-प्रण से सभी को मिलजुलकर प्रयास करने की आवश्यकता है। उन्होेंने बताया कि अब इस दिशा में ठोस एवं कारगर कार्य किया जाएगा।
प्रताप सर्किट बनाने की दिशा में हो पहल

समारोह में अध्यक्षीय उद्बोधन में राजसमन्द सांसद दिया कुमारी ने महाराणा प्रताप को दुनिया का गौरव बताया और कहा कि महाराणा प्रताप से जुड़े स्थलों को कालजयी ऎतिहासिक यादगार बनाने के लिए सभी संभव प्रयास किए जाएंगे। इसके लिए वे जनसेवक के रूप में केन्द्र सरकार के स्तर पर भी पूरी कोशिश करेंगी।
उन्होंने कहा कि प्रताप से संबंधित गौरवशाली इतिहास और गर्वीली गाथाओं से नई पीढ़ी को अवगत कराने के लिए कृष्णा सर्किट की तरह ही प्रताप सर्किट बनाने के लिए समन्वित प्रयासों की आवश्यकता है ताकि देश-दुनिया के लिए यह प्रेरणा जगाने के साथ ही पर्यटन केन्द्र के रूप में भी प्रसिद्ध हो सकें।
प्रताप के जीवनादर्शो को आत्मसात करें


जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल ने महाराणा प्रताप के आदर्शों को वर्तमान में प्रासंगिक बताया और नई पीढ़ी को उनके इतिहास व जीवन गाथाओं से परिचित कराने पर जोर दिया और कहा कि महाराणा प्रताप के समय बाहरी शक्तियों के साथ संघर्ष था लेकिन आज आन्तरिक विषमताओं के खतरे हमारे सामने हैं जिनका मुकाबला करने के लिए प्रताप के जीवनादर्शों को अपनाने की आवश्यकता है।
जिला कलक्टर ने कहा कि महाराणा प्रताप से संबंधित स्थलों के विकास के लिए जिला प्रशासन हरसंभव प्रयासों में जुटा हुआ है तथा इको ट्यूरिज्म के मद्देनज़र वन विभाग की टीम इस दिशा में काम कर रही है। शाहीबाग में प्रताप मेले के आयोजन की निःशुल्क सुविधा के बारे में एएसआई से बात की जाएगी।
मातृभूमि की सेवा और देशभक्ति के प्रति समर्पित रहें
समारोह में स्वतंत्रता सेनानी मदनमोहन सोमटिया, समाजसेवी देवकीनंदन काका एवं वीरेन्द्र पुरोहित ने अपने उद्बोधन में महाराणा प्रताप के जीवन वृत्त से प्रेरणा पाकर मातृभूमि की सेवा करने, देशभक्ति की भावनाओं के प्रसार तथा समाज और देश की तरक्की में समर्पित भाव से जुटने का आह्वान किया।


इन्होंने किया अतिथियों का स्वागत
आरंभ में अतिथियों का तिलक, पुष्पहार, उपरणा, पगड़ी एवं स्मृति चिह्न प्रदान कर स्वागत खमनोर पंचायत समिति की प्रधान श्रीमती शोभा पुरोहित, उप प्रधान दलजीतसिंह चुण्डावत, विकास अधिकारी लादूराम विश्नोई, पूर्व प्रधान पुरुषोत्तम माली, भैरूलाल वीरवाल, सोबसिंह, सेमा सरपंच मन्नू देवी गायरी, खमनोर उपसरपंच, पीईओ जगदीश जटिया आदि ने किया। समारोह का संचालन गोपाल माली एवं जमनालाल ने किया जबकि आभार प्रदर्शन प्रधान शोभा पुरोहित ने किया।



मनोहारी शोभायात्रा ने जगाया आकर्षण
इससे पूर्व रक्ततलाई से भव्य शोभायात्रा निकली जो शाहीबाग समारोह स्थल पहुंच कर सम्पन्न हुई। इसमें महाराणा प्रताप एवं उनके सहयोगियों की वेशभूषा में अदाकारों के प्रदर्शन ने खा़सा रंग जमाया। समारोह के उपरान्त अश्वों की नृत्य प्रतिस्पर्धा हुई। अतिथियों के समारोह स्थल पहुंचने पर गाजे-बाजे के साथ भव्य स्वागत एवं अगवानी की गई।

Read more »

शहीद नारायण को नम आंखों से अंतिम विदाई देने उमड़ा जन सैलाब ~ राजकीय सम्मान से हुआ अंतिम संस्कार, पुत्र मुकेश ने दी मुखाग्नि

By |


राजसमन्द 16 फरवरी/ पुलवामा में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल पर हुए आतंकी हमले में शहीद हुए राजसमन्द पंचायत समिति के बिनोल ग्राम निवासी हेड कॉन्स्टेबल नारायणलाल गुर्जर को शनिवार को अंतिम विदाई देने राजसमन्द जिले भर कई गांवों के गमगीन लोगों का जनसैलाब उमड़ पड़ा। वहीं मेवाड़ व राजस्थान के अन्य हिस्सों से भी शहीद को श्रद्धांजलि देने लोग पहुंचे।
श्री गुर्जर को पूर्ण राजकीय सम्मान के साथ बिनोल के मोक्षधाम पर उनके पुत्र मुकेश गुर्जर ने मुखाग्नि दी जबकि भारत सरकार की ओर से केन्द्रीय राज्य मंत्री उपभोक्ता मामलात् सी.आर. चौधरी, राजस्थान सरकार की ओर से सहकारिता मंत्री व जिले के प्रभारी मंत्री उदयलाल आंजना, जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल, जिला पुलिस अधीक्षक भुवन भूषण यादव, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के राकेश सिंह चौहान ने पुष्पचक्र समर्पित कर शहीद नारायण गुर्जर को श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर राजस्थान पुलिस बल के जवानों ने तीन चक्र हवाई फायर कर शहीद सैनिक को राजकीय सम्मान से अंतिम विदाई दी। मोक्षधाम पर श्रद्धांजलि देने वालों में राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, सांसद हरिओम सिंह राठौड़, उदयपुर सांसद अर्जुनलाल मीणा, भीम विधायक सुदर्शन सिंह रावत, राजसमन्द विधायक श्रीमती किरण माहेश्वरी, कुम्भलगढ़ विधायक सुरेन्द्र सिंह राठौड़, विधायक फूलचंद मीणा, धर्मनारायण जोशी, पूर्व मंत्री लक्ष्मण सिंह रावत, कालूलाल गुर्जर, मगरा विकास बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हरिसिंह रावत, जिला प्रमुख प्रवेश कुमार, उप जिला प्रमुख श्रीमती सफलता गुर्जर, नगरपरिषद सभापति सुरेश पालीवाल, समाजसेवी देवकीनंदन गुर्जर, गुणसागर कर्णावट, हरिसिंह राठौड़, नारायण सिंह भाटी सहित करीब 25 हजार से अधिक लोगों ने नम आंखों से शहीद नारायण लाल गुर्जर को अंतिम विदाई दी।


इससे पूर्व जोधपुर हवाईअड्डे से वायुसेना के हेलिकॉप्टर द्वारा प्रातः 11 बजे शहीद नारायण लाल गुर्जर की पार्थिव देह जेके हवाई पट्टी पहुंची। जहां पर हजारों लोगों ने शहीद नारायण लाल गुर्जर अमर रहे, हिन्दुस्तान जिन्दाबाद के गगनभेदी नारों के जयघोष के साथ शहीद को पुष्पांजलि अर्पित की। हवाईपट्टी पर जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल, जिला पुलिस अधीक्षक भुवन भूषण यादव सहित पुलिस के आला अधिकारियों ने शहीद नारायणलाल गुर्जर को कंधा देकर सम्मानपूर्वक विशेष रूप से सजाए गए रथ पर पार्थिव देह को रखा।


हवाई पट्टी से जैसे ही रथ से अंतिम यात्रा उनके गांव के लिए रवाना हुई तो सबसे पहले जेके टायर इंडस्ट्रीज के सभी कार्मिकों और प्रबंधकों ने शहीद को जेके परिसर में पुष्पांजलि अर्पित की। यहां से उनकी यात्रा स्टेशन रोड़ होते हुए जेके सर्किल पहुंची तो यहां मौजूद हजारों लोगों ने पुष्प वर्षा कर मेवाड़ के लाडले शहीद को पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद यात्रा 50 फीट रोड़, टीवीएस चौराहा होते हुए जिला कलक्ट्रेट के सामने अमर जवान ज्योति पहुंची जहां उपस्थित हजारों लोगों ने पुष्पांजलि अर्पित की। शहीद सैनिक की यात्रा भीलवाड़ा रोड़ होते हुए बिनोल पहुंची तो रास्ते में भावा, डुमखेड़ा, महासतियों की मादड़ी, डुलियाणा, साकरोदा चौराहा पर उपस्थित हजारों ग्रामीणों तथा विद्यालयी छात्र-छात्राओं ने तिरंगा ध्वज लहराते हुए “नारायण का यह बलिदान, याद रखेगा हिन्दुस्तान“ जैसे नारे लगाते हुए पुष्पवर्षा कर अंतिम श्रद्धांजलि दी। जेके स्टेडियम से लेकर पेतृक गांव बिनोल पहुंचने तक रास्ते में हजारों-हजार लोगोें ने नम आंखों से अपने लाडले को दोनों हाथ जोड़कर श्रद्धांजलि अर्पित की और पुष्पों की बौछार की।
जैसे ही शहीद नारायण की पार्थिव देह उनके पेतृक निवास बिनोल पहुंची तो वहां उपस्थित हजारों की संख्या में लोगों की आंखे भर आई और अश्रुपुरित नेत्रों से शहीद को अंतिम विदाई दी।


38 वर्षीय शहीद नारायणलाल गुर्जर केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की 118वीं बटालियल में हेड कॉन्स्टेबल के पद पर जम्मू-कश्मीर में तैनात थे। शहीद नारायणलाल गुर्जर अपने पीछे पत्नी श्रीमती मोहनीदेवी, 14 वर्षीय पुत्री हेमलता तथा 12 वर्षीय पुत्र मुकेश समेत भरापूरा परिवार छोड़ कर गए। नारायणलाल गुर्जर के सम्मान में क्षेत्रभर में जबरदस्त शोक की लहर उमड़ी रही और माहौल इतना गमगीन रहा कि लोग-बाग अपनी सामान्य जीवनचर्या को भूला बैठे।

ग्रामीणों द्वारा शहीदों को श्रद्धांजलि देने का क्रम जारी है। खमनोर तहसील मुख्यालय पर महाराणा प्रताप एकीकृत व्यापार मंडल द्वारा जैन माइनोरिटी संगठन सहित ग्रामीणों ने प्रताप तिराहे पर राजसमन्द के शहीद नारायण लाल गुर्जर सहित सभी  देशभक्त शहीदों को प्रताप प्रतिमा के साथ श्रद्धांजलि अर्पित की गई। शहीद परिवार हेतु हल्दीघाटी से सहयोग राशि भिजवाने का सर्वसम्मति से सोमवार को तय किया गया है। व्यापार मंडल अध्यक्ष रामचंद्र पालीवाल, कोषाध्यक्ष कालू खान, जैन माइनोरिटी संगठन के बसंती लाल लोढ़ा , भवानीशंकर जोशी, भगवती लाल लोढ़ा सहित ग्रामीण व व्यापारी मौजूद रहे।

Read more »

सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत ग्रामीणों को दी यातायात के नियमों की जानकारी – नशा मुक्ति का संकल्प दिलाया

By |


खमनोर। खमनोर थाना पुलिस द्वारा राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत चलाये जा रहे अभियान के तहत खमनोर एवं मोलेला बस स्टैंड पर ग्रामीणों को यातायात के नियमों की जानकारी दी एवं यातायात नियमों के उल्लघंन से होने वाले नुकसान के बारे में विस्तृत से बताया।
चार फरवरी से दस फ़रवरी तक चल रहे 30वें राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के तीसरे दिन गुरुवार को खमनोर प्रताप तिराहे व मोलेला बस स्टेंड पर ए एस आई सुरेंद्र सिंह द्वारा ग्रामीणों को यातायात के नियमों की जानकारी देते हुए हेलमेट लगाकर दुपहिया वाहन चलाने एवं सीट बेल्ट का प्रयोग कर चार पहिया वाहन चलाने के सुरक्षित फायदे बताएं। नशा करके वाहन चलाने पर होने वाली जनहानि से बचने हेतु नशे से दूर रहने की सलाह दी ।
उपस्थित ग्रामीणों ने यातायात की जानकारी प्राप्त कर यातायात नियमों के पालन एवं नशा मुक्ति की शपथ ली।

 

इस आयोजन के दौरान हेड कांस्टेबल अर्जुन सिंह, कॉन्स्टेबल वीरेंद्र सिंह भाटी,कॉन्स्टेबल पवन कुमार,कॉन्स्टेबल नंदलाल सहित अन्य पुलिसकर्मी एवं ग्रामीणजन मौजूद रहे।

Read more »

रेसलिंग का राजस्थान में पहला शो महाराणा प्रताप खेल गांव उदयपुर में 24 फरवरी को

By |

उदयपुर के इतिहास में पहली बार 24 फरवरी को लाइव रेसलिंग “एनकाउंटर 18” कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है जिसमें विदेशों से प्रथम बार रेसलर भाग लेंगे।
इस आयोजन को लेकर ग्रामीण व शहरी युवाओं में गजब का उत्साह देखने मिला रहा है। द ग्रेट खली के प्रशंसकों के लिए खुशखबरी है कि द ग्रेट खली गुरुवार को उदयपुर आ रहे है । आयोजन से पूर्व राजसमन्द जिला मुख्यालय पर भी रोड़ शो करने आने की सम्भावना जताई जा रही हैं।
कार्यक्रम के आयोजक संदीप पालीवाल ने बताया कि रेसलिंग की दुनिया में अपना लोहा मनवा चुके भारत के महान रेसलर द ग्रेट खली उर्फ दलीप सिंह राणा गुरुवार को झीलों के शहर उदयपुर आयेंगे। वे रोड़ शो में भाग लेकर आयोजन स्थल का मुआयना करेंगे।

प्रदेश में पहली बार उदयपुर में आयोजित हो रहे रेसलिंग शो में भारतीय सितारे द ग्रेट खली और विदेशी फाईटर्स के बीच लाइव रोचक मुकाबला होगा। अन्य मुकाबलों में कई ख्यातनाम रेसलर भाग ले रहे है जिसमें मुख्य रूप से राय बेक, रैम स्टीरियो, ब्रोडी स्ट्रील, क्रिस मास्टर बॉबी लेश्ले, जॉन मॉरिसन,अल्बर्टो डेलरिओ, महिला फाईटर्स केटी फॉब्स, संतना गरेट आदि हैं।
इंडियन रेसलिंग एंटरटेनमेंट आईडब्ल्यूई, मिराज ग्रुप और कॉन्टिनेंटल रेसलिंग एंटरटेनमेंट सीडब्ल्यूई के संयुक्त तत्वावधान में होने वाले आयोजन से विश्व रेसलिंग में राजस्थान का नया इतिहास लिखा जायेगा।

Read more »

खमनोर में स्वच्छ भारत मिशन के स्थायित्व पर कार्यशाला

By |

जिला कलक्टर पीसी बेरवाल ने किया श्रेष्ठ कार्मिकों का सम्मान

राजसमन्द। स्वच्छ भारत मिशन के तहत पंचायत समिति खमनोर के खुले से शौच मुक्त होने पर ब्लॉक स्तरीय कार्यशाला का आयोजन बुधवार को किया गया। कार्यशाला के तहत खुले से शौच मुक्त हुई ग्राम पंचायतों के सरपंच एवं सचिवों को स्वच्छता के घटकाें के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई और स्वच्छता से संबंधित विभिन्न समस्याओं एवं खुले में शौच से होने वाली बीमारियों की जानकारी दक्ष प्रशिक्षक द्वारा प्रोजेक्टर के माध्यम से दी गई।

कार्यशाला में जिला कलक्टर श्री पीसी बेरवाल ने अधीनस्थ समस्त ग्राम पंचायतों के पंचायत प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी ,सरपंच एवं ग्राम सेवक पदेन सचिव आदि को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया।

जिला कलक्टर श्री बेरवाल ने पंचायत समिति व जिले को खुले से शौच मुक्त किये जाने में आमजन के सहयोग व कार्मिकों की मेहनत की सराहना की और आगामी समय में स्वच्छ भारत मिशन के तहत सफाई व खुले से शौच मुक्त होने पर आमजन में शौचालय के नियमित उपयोग को सुनिश्चित किए जाने तथा हर प्रकार से स्वच्छता अपनाने के लिए समर्पित भागीदारी का आह्वान किया।

जिला कलक्टर ने ग्राम पंचायत क्षेत्र में योजना के तहत स्थायित्व एवं विशेष कार्ययोजना तैयार कर स्वच्छता गतिविधियों को और अधिक निखारने पर जोर दिया और उपस्थित कार्मिकों व जनप्रतिनिधियों से कहा कि वे इस दिशा में समर्पित भागीदारी के जरिये अनुकरणीय भागीदारी का इतिहास रचें।

कार्यशाला में उपखण्ड अधिकारी , प्रधान श्रीमती शोभादेवी पुरोहित, उपप्रधान श्री दलजीत सिंह चुण्डावत  आदि ने उद्बोधन देते हुए आमजन में स्वच्छता के लिए आवश्यक बिन्दुओं पर अपने विचार प्रस्तुत किये।

कार्यशाला में सरंपच संघ के जिलाध्यक्ष श्री सोहनसिंह सहित समस्त ग्राम पंचायतों के सरपंचगण, पंचायत समिति सदस्यगण ,जिला समन्वयक श्री नानालाल सालवी, ब्लॉक स्तरीय अधिकारी समस्त पंचायत प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी ,ग्राम सेवक पदेन सचिव, पटवारी व अन्य कार्मिक उपस्थित रहे।

Read more »

महाराणा प्रताप की पुण्यतिथि पर जिला मुख्यालय पर श्रद्धांजलि व हल्दीघाटी के संरक्षण की मांग

By |

राजसमन्द । वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की 421 वीं पुण्यतिथि पर जिला मुख्यालय स्थित प्रताप प्रतिमा पर श्रद्धापूर्वक पुष्पांजलि कर जिले के प्रताप भक्त युवाओं ने महाराणा प्रताप स्मारक सहित रक्त तलाई, हल्दीघाटी के संरक्षण हेतु जिला कलेक्टर को मांग पत्र सौंप बरसों से चली आ रही लालफीताशाही पर रोक लगाने की मांग की है।


हल्दीघाटी पर्यटन विकास समिति के अध्यक्ष विश्वजीत सिंह ने समिति पदाधिकारियों, जय राजपूताना संघ व सर्व समाज के युवाओं के सानिध्य में सौंपे गए ज्ञापन में बताया कि वीर शिरोमणी महाराणा प्रताप के नाम पर एकमात्र स्मारक हल्दीघाटी में स्थित होकर विगत एक दशक से उपेक्षा का शिकार है। सरकारी संरक्षण के अभाव में मूल रणक्षेत्र रक्त तलाई,बादशाह बाग, मूल दर्रा, प्रताप गुफा,चेतक समाधी व स्मारक उपेक्षित है।

आरटीडीसी के बन्द होने से व जानकारी के अभाव में पर्यटक ऐतिहासिक धरोहरो को पीछे छोड़ 100 रुपया प्रति व्यक्ति प्रवेश शुल्क देकर निजी दुकान में हल्दीघाटी के बारे में जानकारी पाने पर मजबूर है। वर्तमान में प्राकृतिक स्वरुप को नष्ट किया जा रहा है। हल्दीघाटी के महाराणा प्रताप राष्टीय स्मारक पर 1997 में बनने वाला संग्रहालय बरसों पूर्व ही संदेहास्पद रुप से गायब हो गया व नजदीक ही सन 2003 से आरटीडीसी के पूर्व ठेकेदार का महाराणा प्रताप संग्रहालय के नाम से निजी व्यवसाय खुल गया।


विगत कई दशकों से लगातार हो रही हल्दीघाटी की उपेक्षा से आहत होकर सौंपे गए मांग पत्र में 1993 से वर्तमान तक महाराणा प्रताप स्मृति संस्थान व सदस्यों की कार्यशैली की जांचते हुए नयेे योग्य सदस्य बनाये जाने,  रक्त तलाई में शहीदों स्मारक स्थित विशाल ताल की मरम्मत कराते हुये उद्यान में मूर्तियां लगवा कर पर्यटन की दृष्टि से विकास कराने,
बादशाही बाग,हल्दीघाटी के मूल दर्रे व प्रताप गुफा का संरक्षण कर पर्यटन की दृष्टि से विकास कराने, आरटीडीसी के चेतक गेस्ट हाउस को खुलवाने,महाराणा प्रताप राष्टीय स्मारक हल्दीघाटी में सरकारी संग्रहालय का निर्माण कराने,चेतक नाले पर अधूरे निर्मित व्यू पाईन्ट का विकास कराते हुए यहां लगाई जाने वाली चेतक प्रतिमा स्थापित करने,रणभूमि रक्त तलाई से लेकर महाराणा प्रताप राष्टीय स्मारक के फ्लेक्स बोर्ड लगवा कर पर्यटकों को राहत प्रदान कराने की मांग की है।


बताया गया कि 2007 में नाथद्वारा उपखडं स्तरीय सर्तकता समिति में अतिकर्मी घोषित अतिकर्मी द्वारा स्मारक के नजदीक पुनः मूर्ति लगाने की आड़ में किये जा रहे अवैध अतिक्रमण के खिलाफ सख्त कार्यवाही की आवश्यकता है एवं महाराणा प्रताप स्मृति संस्थान के संस्थापक सदस्य द्वारा निजी व्यवयास के चलते स्मारक के संचालन में जो हस्तक्षेप कर रखा है उसकी जाचं करा ठोस कार्यवाही की मांग की गई है । मामले पर गम्भीरता पूर्वक कदम उठाते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करा हल्दीघाटी का समुचित विकास की उम्मीद जताई व महाराणा प्रताप जयन्ती 2018 तक प्रशासन द्वारा मांग पत्र की उपेक्षा की स्थिति में जन आन्दोलन की चेतावनी दी गई।

इस दौरान हल्दीघाटी पर्यटन विकास समिति अध्यक्ष विश्वजीत सिंह चौहान,उपाध्यक्ष युवराज सिंह, महासचिव जितेंद्र सिंह राठौड़,सचिव जितेंद्र सिंह झाला,बलवीर सिंह चौहान,डालचंद मीणा, जितेंद्र सिंह चौहान,अभय सिंह,यशपाल सिंह,कालू सिंह सहित जय राजपूताना संघ के युवा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

Read more »

महाराणा कुम्भा की जन्मस्थली माल्यावास में उमड़ा जनज्वार

By |

भव्य स्मारक बनाने के लिए केन्द्र सरकार देगी हरसंभव सहयोग – केन्द्रीय गृह मंत्री
मुख्यमंत्री ने की महाराणा कुंभा स्मारक बनाने की घोषणा
राजसमन्द, 14 जनवरी/मेवाड़ के संस्थापक महाराणा कुम्भा की जन्मस्थली माल्यावास मेंं भव्य महाराणा कुंभा स्मारक बनाया जाएगा। इसके लिए राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे की ओर से की गई घोषणा का उपस्थित हजारों लोगों ने करतल ध्वनि से स्वागत किया और आभार जताया। मुख्यमंत्री की ओर से गृह मंत्री श्री गुलाबचन्द कटारिया ने यह घोषणा की और कहा कि इसके लिए राज्य सरकार के इस बार के बजट में प्रावधान किया जाएगा।
इस घोषणा के क्रम में ही केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथसिंह ने कहा कि मेवाड़ के संस्थापक महाराणा कुम्भा की जन्मस्थली मदारिया माल्यावास में भव्य महाराणा कुम्भा स्मारक बनाने और अन्य कार्यों के लिए केंद्र सरकार द्वारा हरसंभव सहयोग किया जाएगा।
उन्होंने इस संबंध में केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री डॉ. महेश शर्मा से हुई बातचीत का ब्यौरा देते हुए बताया कि महाराणा कुम्भा की स्मृति को चिरस्थायी बनाये रखने के लिए भारत सरकार वांछित योगदान प्रदान करेगी।
यह घोषणा रविवार को राजसमन्द जिले के मदारिया माल्यावास में महाराणा कुम्भा की 601 वीं जयंती पर महाराणा कुम्भा जन्मभूमि सेवा समिति की और से आयोजित मेवाड़ महाकुम्भ में की गई।
इसमें केन्द्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथसिंह मुख्य अतिथि थे जबकि अध्यक्षता राजस्थान के गृह मंत्री श्री गुलाबचन्द कटारिया ने की। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथसिंह ने मेवाड़ निर्माता प्रकाश स्तंभ महाराणा कुम्भा की तस्वीर के समक्ष पुष्पांजलि र्अपित की और दीप प्रज्वलित कर मेवाड़ महाकुम्भ का शुभारंभ किया। मुख्य अतिथि केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह एवं राजस्थान के गृह मंत्री श्री गुलाबचन्द कटारिया ने भामाशाहों श्री महेन्द्रसिंह आकेली एवं चावण्डसिंह सिन्देसर कला को शाल एवं स्मृति चिह्न प्रदान कर सम्मानित किया।


समारोह में राजस्थान के गृह मंत्री श्री गुलाबचंद कटारिया, उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी, ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री राजेन्द्र राठौड़, राजस्थान धरोहर संरक्षण एवम प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री ओंकारसिंह लखावत, सांसद श्री हरिओमसिंह राठौड़ एवं श्री सीपी जोशी, राजस्थान मगरा विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री हरिसिंह रावत, देवगढ़ राजघराने के वीरभद्र सिंह, विधायक सुरेन्द्रसिंह राठौड़, आसीन्द विधायक श्री रामलाल गुर्जर, ब्यावर विधायक श्री शंकरसिंह रावत, मारवाड़ जंक्शन विधायक श्री केसाराम चौधरी, पूर्व सांसद श्री रासासिंह रावत, श्री शिवपाल सिंह, सहित क्षेत्र भर से जनप्रतिनिधि और विशाल जन समुदाय उपस्थित था।


केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि महाराणा कुम्भा की याद में होने वाले आयोजन केवल मदारिया तक ही सीमित न रहें बल्कि कुंभा का संदेश राजस्थान के कोने-कोने तक पहुंचना चाहिए।
गृहमंत्री के ओजस्वी संबोधन ने किया मुग्ध
उन्होंने महाराणा कुम्भा को साम्राज्य का ही नहीं बल्कि महान संस्कृति का संस्थापक बताया और मेवाड़ तथा राजस्थान की महिमा से परिचित कराते हुए कहा कि राजस्थान की धरती शौर्य-पराक्रम, बलिदान की गाथाओं से भरी रही है। राजस्थान की धरती राणा की शक्ति, मीरा की भक्ति, पन्ना की युक्ति, भामाशाह की संपत्ति और वीरांगनाओं की मुक्ति की भूमि है।
उन्होंने कहा कि मेवाड़ का इतिहास दुनिया के लिए प्रेरक है । इसमें आत्मसर्मपण नाम का कोई शब्द नहीं। या तो विजय है या फिर वीर गति। तीसरा कोई विकल्प है ही नहीं। उन्होंने कहा कि मेवाड़ की गौरव गाथा को जिस रूप में दर्शाया गया है उसे देख यह महसूस होता है कि इतिहास के साथ इंसाफ नहीं हुआ।
केन्द्रीय गृह मंत्री ने मेवाड़ के राजवंश की स्थापना, बप्पा रावल से लेकर अब तक कि परंपराओं और खासियतों, ऎतिहासिक गाथाओं आदि का स्मरण किया और इनसे प्रेरणा पाकर समाज और देश की एकता और अखंडता तथा नवनिर्माण में भागीदारी का आह्वान किया।
उन्होंने कहा कि देश की सीमाएं सुरक्षित हैं, अब कोई आँख उठाकर नहीं देख सकता। दुनिया में भारत की छवि मज़बूत और तेजी से विकसित तथा तीव्रतर र्आथिक विकास वाले देश की है। दुनिया के लोगों की धारणा बदल रही है।


मुख्यमंत्री की ओर से गृहमंत्री ने की स्मारक बनाने की घोषणा कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राजस्थान के गृह मंत्री श्री गुलाबचंद कटारिया ने महाराणा कुम्भा जन्मभूमि सेवा समिति के प्रयास की भूरी-भूरी प्रशंसा की और मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे की ओर से घोषणा की और कहा कि महाराणा कुम्भा की जन्मस्थली का भव्य विकास इस बार के बजट में शामिल किया जाएगा।
इसके लिए उन्होंने राजस्थान धरोहर संरक्षण समिति के अध्यक्ष ओंकारसिंह लखावत से योजना बनाने के लिए कहा। श्री कटारिया ने मेवाड़ के शौर्य-पराक्रम, वीरता, स्वाभिमान, साहस तथा मेवाड़ महिमा पर प्रकाश डाला और कहा कि आने वाली पीढियों तक मेवाड़ के इतिहास को पहुंचाने के लिए हरसंभव प्रयास करने पर जोर दिया। गृह मंत्री ने कहा कि राजस्थान में फिल्म पद्मिनी के प्रदर्शन को प्रतिबंधित कर दिया है लेकिन जन भावनाओं को देखते हुए देश भर में इस पर पाबंदी के प्रयास जरूरी हैं।
उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने मेवाड़ काम्प्लेक्स के विकास और विस्तार के प्रयासों, दिवेर में महाराणा प्रताप, बप्पा रावल, पन्नाधाय और, राणा राजसिंह पेनोरमा निर्माण, कुम्भलगढ़ किला, चित्तौडगढ़ दुर्ग आदि के लिए सरकार के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने चामुंडा माता मंदिर विकास, महाराणा कुम्भा र्मूति स्थापित करने, पेनोरमा विकसित करने के योजनाबद्ध प्रयासों पर बल दिया। उन्होंने फिल्म पद्मिनी के प्रसारण पर रोक की बात कही।
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़ ने महाराणा कुम्भा समिति का आभार जताया और मेवाड़ की धरा को मान मर्यादा, शक्ति और भक्ति , त्याग और तपस्या की भूमि बताया और पद्मावती फ़िल्म को बेन करने का समर्थन करते हुए राजस्थान सरकार द्वारा किए गए प्रयासों की जानकारी दी।
उन्होंने महाराणा कुम्भा के विलक्षण और दिव्य जीवन का जिक्र किया और राजस्थान के इतिहास से जुड़े स्थलों और महापुरुषों के विकास तथा नई पीढ़ी तक ऎतिहासिक गाथाओं को पहुंचाने में राजस्थान सरकार और मुख्यमंत्री की तारीफ की। उन्होंने चित्तौड दुर्ग विकास व संरक्षण की जानकारी दी तथा सभी से कहा कि वे सबका साथ सबका विकास को साकार करने का संकल्प लें।
राजस्थान मगरा विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री हरिसिंह रावत ने दिवेर में 6.5 करोड़ से प्रताप स्मारक और कमेरी में पन्नाधाय पेनोरमा आदि ऎतिहासिक गतिविधियों के लिए मुख्यमंत्री की सराहना की।


सांसद श्री हरिओमसिंह राठौड़ ने मेवाड़ के इतिहास पुरुषों व ऎतिहासिक स्थलों के विकास के लिए सरकार के प्रयासों की सराहना की और केंद्रीय गृहमंत्री से महाराणा कुम्भा से संबंधित स्थलों के संरक्षण और विकास के लिए प्रभावी प्रयासों में भागीदारी निभाने का आग्रह किया।
आरंभ में केंद्रीय गृहमंत्री का स्वागत सांसद श्री हरिओमसिंह राठौड़ ने पुष्पगुच्छ से स्वागत किया जबकि भंवरसिंह लसानी ने प्रतीक चिह्न भेंट किया। समिति के अध्यक्ष श्री नारायणलाल उपाध्याय ने स्वागत भाषण दिया और महाराणा कुम्भा के जीवन और ऎतिहासिक र्कीति गाथा पर विस्तार से बताया। विधायक सुरेन्द्रसिंह राठौड़ व चौधरी आदि महाराणा कुंभा व इतिहास पुरुषों से संबंधित स्थलों के विकास का आग्रह किया।
केन्द्रीय गृह मंत्री सहित सभी वक्ताओं ने की मुख्यमंत्री की तारीफ
केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथसिंह सहित सभी वक्ताओं ने राजस्थान की विरासतों के संरक्षण, ऎतिहासिक महत्व के स्थलों, वीरों-वीरांगनाओं, इतिहास पुरुषों और कला-संस्कृति और परंपराओं के संरक्षण संर्वधन के लिए मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे के प्रयासों की मुक्त कंठ से सराहना की। केंद्रीय गृह मंत्री ने इस दिशा में मुख्यमंत्री और राजस्थान सरकार की तारीफ की और कहा कि राजस्थान को योग्य, सक्षम और तेज़तर्रार सीएम मिली हैं। आभार प्रदर्शन श्री अमरसिंह (लसानी) ने किया।
केन्द्रीय गृह मंत्री का माल्यावास पहुंचने पर स्वागत
इससे पूर्व केन्द्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथसिंह रविवार को बीएसएफ हेलीकाप्टर से दोपहर 1.55 बजे राजसमन्द ज़िले के मदारिया पहुंचे।
सभास्थल के पास बने हेलीपेड पर गृह मंत्री श्री गुलाबचंद कटारिया, उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी, ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़, राजस्थान मगरा विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री हरीसिंह रावत, राजस्थान धरोहर संरक्षण प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री ओंकारसिंह लखावत, सांसद श्री हरिओमसिंह राठौड़ एवम श्री सीपी जोशी, संभागीय आयुक्त भवानीसिंह देथा, पुलिस महानिरीक्षक आनंद श्रीवास्तव, विधायक सुरेन्द्रसिंह राठौड़ व केसाराम चौधरी, लोकेन्द्रसिंह कालवी, प्रभारी सचिव श्री आनंदकुमार, जिला कलक्टर श्री पीसी बेरवाल, जिला पुलिस अधीक्षक श्री मनोजकुमार, अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री बृजमोहन बैरवा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री गोविन्दसिंह राणावत, जिलाप्रमुख श्री प्रवेश कुमार सालवी, सभापति श्री सुरेश पालीवाल, समाजसेवी श्री भंवरलाल शर्मा सहित क्षेत्र भर के प्रमुख जन प्रतिनिधियों ने अगवानी व स्वागत किया।

केन्द्रीय गृहमंत्री ने महाराणा कुंभा की कुलदेवी चामुण्डा माता के दर्शन किए,
देश की खुशहाली के लिए की प्रार्थना


राजसमन्द ।केन्द्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने रविवार को जिले के माल्यावास (देवगढ़) में महाराणा कुम्भा की जन्म स्थली के समीप स्थित महाराणा कुंभा की कुलदेवी चामुण्डा माता मन्दिर में दर्शन किए और देश की खुशहाली के लिए प्रार्थना की। मन्दिर के पुजारी भगवतीलाल शर्मा, रमेशचन्द्र जोशी एवं ललित व्यास ने मंत्रोच्चार से विधिपूर्वक पूजा-अर्चना करवाई।
इस अवसर पर राज्य के गृहमंत्री श्री गुलाबचन्द कटारिया, सांसद श्री हरिओम सिंह राठौड़, स्थानीय विधायक एवं मगरा विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री हरिसिंह रावत, जिला कलक्टर श्री पी.सी.बेरवाल, जिला पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार आदि उपस्थित थे। इस अवसर पर सांसद श्री राठौड़ एवं श्री रावत ने महाराणा कुम्भा की जन्म स्थली एवं चामुण्ड़ा माता के सम्बन्ध में संक्षित जानकारी दी।

Read more »

आशापुरा क्लब खटामला प्रताप कप विजेता – ब्रांड हब कांकरोली रहा उपविजेता

By |





खमनोर के महाराणा प्रताप स्टेडियम में जय हल्दीघाटी नवयुवक मंडल व आयोजन समिति के तत्वावधान में आयोजित प्रताप कप सीजन द्वितीय छह दिवसीय क्रिकेट प्रतियोगिता का समापन रविवार को हुआ ၊ फाइनल मुकाबले में आशापुरा क्लब खटामला ने ब्रांड हब कांकरोली को हराया ၊ अंतिम मैच में पहले खेलते हुए ब्रांड हब कांकरोली ने निर्धारित 25 ओवर में दो विकेट शेष रहते 168 रन बनाये ၊जवाबी पारी में आशापुरा क्लब ने एक विकेट व एक गेंद शेष रहते रोमांचक जीत हासिल की ၊ विजेता टीम को 31000 रूपये  व ट्राफी तथा उप विजेता को 15000 व ट्रॉफी प्रदान की गई ၊ प्रतियोगिता में मोलेला के यशवंत मैन ऑफ द सीरीज रहे ၊ विजेता टीम के राहुल  मैन ऑफ द मैच रहे၊ विजेता टीम द्वारा ईनामी राशि में से 11000 रूपये गरीब बच्चों की शिक्षा हेतु आयोजन कमेटी को देकर अनुकरणीय मानवीयता का श्रेष्ठ प्रदर्शन किया၊विजेताओं को अतिथियों द्वारा सम्मानित किया गया ၊

समापन समारोह की अध्यक्षता आयोजन समिति के श्री दया लाल पालीवाल ने की၊ मुख्य अतिथि श्रीमती संगीता कुंवर चौहान,श्रीभूपेंद्र श्रीमाली थे ၊ विशिष्ट अतिथियों में संत श्री ज्वालानाथ, भाजपा प्रदेश प्रतिनिधि श्री केशर सिंह चुण्डावत,पंचायत समिति उप प्रधान श्री दलजीत सिंह चुण्डावत, भाजपा नाथद्वारा नगर अध्यक्ष श्री प्रदीप काबरा,  विधायक प्रतिनिधि श्री नीरज शर्मा,सेमा सरपंच सुश्री मनू गायरी,ग्रामीण मंडल अध्यक्ष श्री हरदयाल सिंह चौहान, खमनोर पूर्व उप सरपंच भैरु लाल वीरवाल, मंडल अध्यक्ष श्री नवनीत पालीवाल ,भाजयुमो खमनोर मंडल अध्यक्ष श्री संदीप श्रीमाली,ड़ॉ श्री कुलदीप कौशिक,श्री कैलाश श्रीमाली इत्यादि  मौजूद थे၊

अतिथियों का मेवाड़ी परंपरा  अनुसार पगड़ी,उपरणा व तलवार भेंट कर स्वागत किया गया ၊ आयोजन समिति व नवयुवक मंडल के श्री निर्मल बडारिया,श्री मुकेश सिंह,श्री कपिल पालीवाल,श्री लोकेश दवे, श्री दीपक दवे,श्री नवीन मोदी, श्री पंकज पालीवाल,श्री इशाक ताजक,श्री जुगनू ,श्री हरीश पंवार,श्री छोटूसिंह चौहान,श्री मनोज पालीवाल, श्री आजाद खान,श्री दीपक शर्मा,श्री योगेश पालीवाल,श्री नीलेश पालीवाल,श्री नरेश वीरवाल,आदि युवा साथियों ने सभी का स्वागत सत्कार  किया ၊

अंत में आभार महाराणा प्रताप व्यापार मंडल अध्यक्ष श्री रामचंद्र पालीवाल ने ज्ञापित किया၊ फाइनल मुकाबले को देखने को काफी संख्या में दर्शक मौजूद रहे ၊संचालन श्री संदीप मांडोत ने किया ၊


Read more »

छः दिवसीय प्रताप कप क्रिकेट प्रतियोगिता 2018 सीजन द्वितीय का शुभारंभ

By |

खमनोर। वीर शिरोमणी महाराणा प्रताप की समर स्थली हल्दीघाटी के महाराणा प्रताप स्टेडियम,मलीदा में छः दिवसीय प्रताप कप क्रिकेट प्रतियोगिता 2018 सीजन द्वितीय का शुभारंभ मंगलवार 2 जनवरी प्रातः प्रबुद्ध अतिथिगणों की मौजूदगी में आयोजन समिति ,जय हल्दीघाटी नवयुवक मंडल एवं ईलेवन स्टार क्लब खमनोर द्वारा किया गया ।
प्रतियोगिता के शुभारंभ समारोह की अध्यक्षता आयोजन समिति अध्यक्ष श्री दयालाल पालीवाल ने की। मुख्य अतिथि पर्यटन व्यवसायी श्री मोहनलाल श्रीमाली, विशिष्ट अतिथि राजसमंद कांग्रेस जिलाध्यक्ष श्री देवकीनंदन गुर्जर काका , राजसमंद पूर्व नगर परिषद सभापति श्रीमती आशा पालीवाल, श्री प्रदीप पालीवाल ,किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष श्री युवराज सिंह चौधरी  , श्री हरिवल्लभ गुर्जर, सेमा सरपंच मनु गायरी,खमनोर उपसरपंच प्रकाश पालीवाल , पूर्व उपसरपंच भैरूलाल वीरवाल, नवयुवक मंडल संरक्षक श्री किशन कटारा, भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष श्री नवनीत पालीवाल, श्री गोपाल कटारा ,महाराणा प्रताप एकीकृत व्यापार मण्डल अध्यक्ष श्री राम चंद्र पालीवाल ,श्री जमनालाल वीरवाल, श्री हुक्मीचंद माली विशिष्ट अतिथि थे।
जय हल्दीघाटी नवयुवक मंडल के सचिव श्री निर्मल बडारिया, कोषाध्यक्ष श्री हरीश पंवार ,श्री छोटूसिंह चैहान,श्री मनोज पालीवाल, श्री आजाद खान, श्री दीपक शर्मा, श्री दीपक दवे,श्री मुकेश परमार,श्री योगेश पालीवाल, श्री नवीन मोदी,श्री नीलेश पालीवाल, श्री नरेश वीरवाल,ईशाक आदि ने अतिथियों का पारंपरिक स्वागत किया।


ईलेवन स्टार क्लब के अध्यक्ष श्री दीपक शर्मा ने बताया कि पहला मुकाबला माली समाज ए खमनोर और मेवाड क्लब खमनोर के बीच खेला गया। जिसमें माली समाज ए खमनोर 50 रन बना विजेता रही। दूसरा मैच ब्रांड हब कांकरोली और ओडा के मध्य हुआ जिसमें ब्रांड हब कांकरोली विजेता रही। तीसरा मैच देवपुरा केलवा और मोलेला आशापुरा के मध्य हुआ जिसमे मोलेला टीम विजेता रही। यह प्रतियोगिता 7 जनवरी 2018 तक चलेगी। विजेता टीम को 31000 रुपये, उप विजेता को 15000 रुपये व बेस्ट प्लेयर को 5100 रुपये मय ट्रॉफी दी जायेगी।12 ओवर के मैच में राजसमंद सहित संभाग की 18 टीमें भाग ले रही है।

Read more »

महिलाओं ने रैली निकाल समारोहपूर्वक किया सी एल एफ का शुभारंभ

By |





खमनोर। राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद की ओर से खमनोर में क्लस्टर लेवल फेडरेशन का शुभारंभ सोमवार को हुआ।

समारोह में मुख्य अतिथि विकास अधिकारी वीरेंद्र कुमार जैन, अध्यक्षता जिला परियोजना प्रबंधक गौरव त्रिवेदी ने की। विशिष्ट अतिथी पूर्व ब्लॉक प्रबंधक भोमराज जीनगर थे। पूर्व ब्लॉक परियोजना प्रबंधक ने स्वागत उद्बोधन देते हुए राजीविका की विस्तृत जानकारी दी। जिसमें खमनोर कलस्टर में 136 से ज्यादा समूह और उनके ऊपर 13 ग्राम संगठन बन चूके हैं।

मुख्य अतिथि ने राजीविका द्वारा महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की सराहना करते हुए कहा कि यह बीपीएल महिलाओं की आर्थिक उन्नयन की एक सीढ़ी है। यह योजना महाराणा प्रताप महिला क्लस्टर संगठन द्वारा क्षेत्र की महिलाओं के उत्थान में निश्चित ही सहायक सिद्ध होगी।


कार्यक्रम में सोडावास की समूह सखी टमा कुंवर ने गीत प्रस्तुत किया। संचालन बहादुर सिंह ने किया। ब्लॉक प्रबंधक लिज़ा जोसेफ ने आभार जताया। इस दौरान ब्लॉक अन्तर्गत ग्राम पंचायतों की सैंकड़ों महिलाएं मौजूद थी। महिलाओं ने गांव में बस स्टैंड होकर समारोह स्थल राजकीय महाराणा प्रताप आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय तक नाचते गाते रैली निकाली। महिलाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। क्लस्टर लेवल फेडरेशन के शुभारंभ पर संदीप झा,पूरन सिंह, शांतिलाल,रामलाल गुर्जर, लक्ष्मण गुर्जर सहित अन्य मौजूद रहे।

Read more »