भौतिक से अधिक मानवीय विकास को अपनाएं – सांसद श्री राठौड़





राजसमन्द 28 सितम्बर/ सांसद श्री हरिओम सिंह राठौड़ ने ग्रामीणों से कहा है कि अपनी जीवनशैली में भौतिक विकास की बजाय मानवीय विकास को अपनाकर जिले में हो रहे अभूतपूर्व विकास की मुख्यधारा में जुड़ें। व्यक्तिगत विकास करने की शैली को त्यागें तथा पूरी ग्राम पंचायत को अपना घर मानते हुए सामूहिक प्रयासों में जुटते हुए समग्र ग्राम्य विकास को मजबूती दें।

सांसद श्री राठौड़ बुधवार को रेलमगरा पंचायत समिति की सांसद आदर्श ग्राम पंचायत बामनिया कलां में आयोजित जिला कलक्टर की रात्रि चौपाल में उपस्थित ग्रामीणों तथा अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने उपस्थित ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों को दें और यह अच्छी तरह सुनिश्चित करें कि योजनाएं मात्र खानापूर्ति बनकर न रह जाएं, इनका वास्तविल लाभ लक्ष्य समूह तक पहुंचे तथा उपयोगिता सिद्ध हो।  जिन परिवादों का निस्तारण ब्लॉक स्तर पर ही हो सकता है, उन्हें लम्बित न कर तत्काल निस्तारित करें।




विभागीय गतिविधियों के प्रति रहें गंभीर

रात्रि चौपाल में सांसद ने ग्रामीणों का आह्वान किया कि वे ग्राम पंचायत में संचालित राजकीय विद्यालयों, पकने वाले पोषाहार सामग्री की गुणवत्ता, आँगनवाड़ी केन्द्रों, अटल सेवा केन्द्र, पटवारी कार्यालयों आदि का नियमित रूप से अवलोकन करते रहें जिससे विभागीय जानकारी भी प्राप्त होगी तथा जनकल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित होने की प्रेरणा भी मिलेगी।




चौपाल में सांसद श्री राठौड़ ने ग्रामीणों के चिकित्सा, शिक्षा, बिजली, पेयजल, अतिक्रमण, कृषि आदि से संबंधित परिवाद सुने तथा इनके निस्तारण के लिए उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *